सौर कृषि आजीविका योजना 2024 – ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, लाभ व पात्रता

Saur Krishi Aajeevika Yojana – किसानों की आय बढ़ाने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गई है। जिसका नाम सौर कृषि आजीविका योजना (SKAY) है। इस योजना के तहत किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैंं। राजस्थान में सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए Saur Krishi Aajeevika Yojana को राज्य में 17 अक्टूबर 2022 को ऊर्जा मंत्री भवन भवन सिंह भाटी द्वारा लांच किया गया है। सौर कृषि आजीविका योजना से जुड़ने के लिए राज्य सरकार ने एक पोर्टल तैयार किया है। जहां किसान अपना रजिस्ट्रेशन करके अपने दस्तावेज अपलोड करके अंशदान दे सकते हैंं। इसके अलावा सोलर एनर्जी प्लांट लगाने वाले डेवलपर से भी जुड़ सकते हैंं।

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से SKAY Yojana से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे ताकि आप भी अपनी बंजर जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सके।

Saur

Saur Krishi Aajeevika Yojana (SKAY) 2024

विकेंद्रीकृत सौर ऊर्जा संयंत्र को बढ़ावा देने के उद्देश्य से राजस्थान सरकार ने सौर ऊर्जा आजीविका योजना या “SKAY” योजना की शुरुआत की है। Saur Krishi Aajeevika Yojana के तहत सरकार किसानों की बंजर/अनुपयोगी भूमि लीज पर लेगी और उस पर सौर ऊर्जा संयंत्रलगाएगी। किसानों की बंजर अनुपयोगी भूमि पर सरकार की ओर से किराया दिया जाएगा। जिसके माध्यम से किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैंं। इस योजना के माध्यम से किसान अतिरिक्त कमाई कर सकते हैंं।

किसानों को सिंचाई के लिए बिजली के साथ ही पैसा कमाने का अवसर भी मिलेगा। जिसके लिए कृषि आजीविका योजना किसान एवं विकासकर्ता (Developer) की सुविधा के लिए एक पोर्टल (www.skayrajasthan.org.in) विकसित किया गया है। राज्य के इच्छुक किसान अपनी बंजर/अनुपयोगी भूमि को लीज पर देने के लिए इस पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैंं। विकासकर्ता किसानों द्वारा पोर्टल पर दिया गया भूमि का विवरण देख सकते हैंं।

Pradhan Mantri Solar Panel Yojana

प्रमुख शासन सचिव ऊर्जा एवं अध्यक्ष डिस्कॉम्स श्री भास्कर.ए.सावंत ने वीसी के माध्यम से सौर कृषि आजीविका योजना के पोर्टल की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि योजना का प्रदेश के किसानों को अधिक से अधिक लाभ दिलाने के लिए सभी अभियन्ता समन्वय से कार्य करें। pic.twitter.com/deXGEl3MUa — Government of Rajasthan (@RajGovOfficial) November 2, 2022

राजस्थान सौर कृषि आजीविका योजना 2024 के बारे में जानकारी

योजना का नाम Saur Krishi Aajeevika Yojana
शुरुआत की गई राजस्थान सरकार द्वारा
लाभार्थी राज्य का कोई भी किसान या भूमि मालिक
उद्देश्य बंजर भूमि को लीज/किराए पर देने का अवसर देकर राज्य के प्रचुर भूमि संसाधनों का उपयोग करना
राज्य राजस्थान
साल 2024
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइट https://www.skayrajasthan.org.in/

PM Kusum Yojana

Saur Krishi Aajeevika Yojana का उद्देश्य

सौर कृषि आजीविका योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य किसानों को सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए पूर्व निर्धारित राशि के आधार पर बंजर भूमि को लीज/किराए पर देने का अवसर देकर राज्य के प्रचुर भूमि संसाधनों का उपयोग करना है। जिसके लिए राजस्थान डिस्कॉम्स ने एक ऑनलाइन पोर्टल विकसित किया है। इस पोर्टल के माध्यम से ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए किसान अपनी जमीन को लीज पर देने के लिए पंजीकृत कर सकते हैंं। और सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता (Developer) भी पंजीकृत किसानों तक पहुंचने के लिए पंजीकरण कर सकते हैंं। जिससे किसानों को लाभ प्राप्त होगा। तथा उनकी आय में वृद्धि होगी।

इस योजना के तहत स्थापित होने वाले सौर ऊर्जा संयंत्र से उत्पादित होने वाली बिजली आसपास के क्षेत्र के लोगों को ही मिलेगी और उनको दिन के समय कृषि कार्य के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध हो सकेगी। किसानों की बंजर जमीन का सदुपयोग किया जा सकेगा।

सोलर एनर्जी प्लांट के लिए फीस

सौर कृषि आजीविका योजना के तहत किसानों को सोलर प्लांट लगवाने के लिए 1180 रुपए का पंजीकरण शुल्क के तौर पर भुगतान करना होगा। इसके अलावा सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता (Developer) को भी पंजीकरण शुल्क के तौर पर 5900 रुपए जमा कराने होंगे। जब दोनों पक्ष की ओर से फीस और दस्तावेज जमा कराए जाएंगे। तभी आवेदन की जांच करके डिस्कॉम की ओर से भूमि का सत्यापन किया जाएगा। जल्द किसानों और डेवलपर्स की समस्याओं के समाधान के लिए डेडीकेट हेल्प डेस्क डिस्कॉम स्तर पर बनाई जाएगी।

सोलर एनर्जी प्लांट के लिए सब्सिडी

सौर कृषि आजीविका योजना के तहत पीएम कुसुम योजना के जरिए सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए कुल लागत का 30% अनुदान डेवलपर को दिया जाएगा। राज्य सरकार ने दोनों पक्षों को जोखिम से सुरक्षा प्रदान करने के लिए जमीन के मालिक किसान विकासकर्ता और संबंधित डिस्कॉम या कंपनी के त्रिपक्षीय कॉन्ट्रैक्ट भी किया जाएगा। जिससे जोखिम से सुरक्षा, सौर ऊर्जा उत्पादन, प्रदूषण का स्तर कम और किसानों की आय दुगनी करने में सहायता मिलेगी।

किसानों ने कराया SKAY Portal पर पंजीकरण

इस योजना के शुभारंभ के बाद ही किसानों एवं विकासकर्ताओं (Developer) का अच्छा रेस्पॉन्स मिल रहा है। इस पोर्टल पर अब तक 34621 से अधिक लोगों ने प्रवेश किया है। सौर कृषि ऊर्जा योजना के तहत 7217 किसानों ने अपनी बंजर भूमि पर सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए पोर्टल पर पंजीकरण कराया है। इसी के साथ सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ताओं ने भी लगभग 753 ने पोर्टल पर पंजीकरण करवाया है।

अब तक 14 किसानों व 14 विकासकर्ताओं ने पोर्टल पर निर्धारित फीस भी जमा करवाई है। समीक्षा बैठक में बताया गया कि अलवर व जयपुर जिले के किसानों ने सौर कृषि आजीविका योजना में अधिक उत्साह दिखाया है। जिसमें से अलवर जिले में तीन और जयपुर जिले में 7 किसानों ने निर्धारित फीस के साथ अपनी भूमि का पंजीकरण कराया है। और जमीन के डॉक्यूमेंट भी पोर्टल पर अपलोड कर दिए हैं। इन जीएसएस के लिए डिस्कॉम अधिकारियों द्वारा भूमि के सत्यापन के पश्चात डिस्कॉम द्वारा जल्द ही टेंडर जारी करने की प्रक्रिया शुरु की जाएगी।

National Solar Rooftop Portal

Saur Krishi Aajeevika Yojana के मुख्य बिंदु

  • सौर कृषि आजीविका योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों एवं डेवलपर्स को अधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण करवाना अनिवार्य है।
  • भूमि मालिक, किसान, किसानों के समूह, पंजीकृत सहकारी समितियां, संगठन, संघ संस्थान भी सौर कृषि आजीविका योजना से जुड़ सकते हैंं।
  • कम से कम 1 हेक्टेयर की जमीन को लीज/किराए पर देने के लिए राज्य का कोई भी किसान या भूमि मालिक पंजीकरण करा सकता है।
  • रजिस्टर्ड बंजर अनुपयोगी जमीन की दूरी सब स्टेशन के 5 किलोमीटर के दायरे में होनी चाहिए।
  • इस योजना के नियमों के अनुसार जमीन मालिकों या किसानों को किसी एक नामांकित व्यक्ति के पक्ष में उचित मुख्तारनामा करवाना होगा। क्योंकि पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए मुख्तारनामा अपलोड करना होगा।
  • आवेदन करने के लिए आवेदकों को non-refundable पंजीकरण शुल्क का ऑनलाइन भुगतान करना होगा।

सौर कृषि आजीविका योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • राजस्थान में सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए Saur Krishi Ajivika Yojana को राज्य में 17 अक्टूबर 2022 को ऊर्जा मंत्री भवन भवन सिंह भाटी द्वारा लांच किया गया है।
  • सौर कृषि आजीविका योजना के माध्यम से किसानों को दिन के समय भी बिजली होगी।
  • किसानों को बंजर/अनुपयोगी भूमि के लिए लीज के रूप में अतिरिक्‍त आय अर्जित करने का अवसर प्राप्त होगा।
  • विकासकर्ता राज्‍य भर में किसान भूमि मलिकों के संपर्क विवरण के साथ उपलब्ध भूमि तक पहुंचेंगे।
  • राज्य में सस्ती और ऊर्जा की उपलब्धता से बिजली खरीद लागत और वितरण एवं व्यवसायिक हानियों में कमी आएगी।
  • इस योजना के माध्यम से पीएम कुसुम योजना के घटक ए से वितरित, सौर पावर प्लांट बिजली संयंत्र की क्षमता या इसकी स्थापना स्थान पर कोई बाध्यता नहीं होगी।
  • बिजली उत्पादन और उसकी खपत दोनों उपभोक्ता के नजदीक होने के कारण विद्युत वितरण ढांचे एवं वितरण हानि में भी कमी आएगी।
  • किसानों की बंजर अनुपयोगी भूमि पर सरकार की ओर से किराया दिया जाएगा।
  • जिसके माध्यम से किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैंं।
  • किसानों को सिंचाई के लिए बिजली के साथ ही पैसा कमाने का अवसर भी मिलेगा।

Saur Krishi Aajeevika Yojana के लिए पात्रता

  • सौर कृषि आजीविका योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए राज्य का कोई भी किसान या भूमि मालिक पात्र होंगे।
  • सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता सौर कृषि आजीविका योजना के लिए पात्र होंगे।
  • राज्य के जिन नागरिकों के पास बंजर जमीन होगी वही इस योजना के लिए पात्र होंगे।

Rajasthan Free Mobile Yojana

सौर कृषि आजीविका योजना में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र
  • खेत की खतौनी के कागजात
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Saur Krishi Aajeevika Yojana के तहत रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सौर कृषि आजीविका योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
Saur
  • होम पेज पर आपको फॉर्मल लॉगइन के सेक्शन में Register Here के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
Saur
  • इस पेज पर आपको मोबाइल नंबर, फुल नेम, यूजर टाइप दर्ज करना होगा।
  • अब आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया भेद खुल जाएगा जहां पर आपको एक एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म में आपको अपना जमीन का सारा विवरण वगैरा प्रदान करना होगा
  • विवरण प्रदान करने के पश्चात आपको पंजीकरण शुल्क जमा ऑनलाइन माध्यम से करना होगा
  • इसके बाद आपको प्रदान की गई सभी जानकारी अच्छे से चेक करनी है एवं सबमिट का ऑप्शन पर क्लिक करना है

SKAY Portal पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको शार्ट कृषि आजीविका योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको Farmer Login में Login Here के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद आपके सामने लॉगइन पेज खुल जाएगा।
SKAY
  • इस पेज पर आपको यूजर आईडी और पासवर्ड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको Log in के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप आसानी से सौर कृषि आजीविका योजना के तहत लॉगइन कर सकते हैंं।

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *