(पंजीकरण) मध्य प्रदेश 1000 रुपये मजदूर सहायता योजना – ऑनलाइन आवेदन। एप्लीकेशन फॉर्म

मजदूर सहायता योजना का शुभारम्भ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान जी के द्वारा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए पुरे देश में लॉकडाउन के कारण गरीब लोगों को होने वाली परेशानियों को कम करने के लिए किया गया है। Madhya Pradesh Majdur Sahayata Yojana के अंतर्गत राज्य के मजदूरों और दिहाड़ी मजदूरों को राज्य सरकार द्वारा 1000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की (State government will provide financial assistance of Rs 1000 to the laborers and daily laborers.) जाएगी।इसके अलावा, प्रदेश सरकार जनजातीय परिवारों के खातों में दो माह की अग्रिम राशि 2,000 रुपये देगी और सामाजिक सुरक्षा योजना के तहत आने वाले पेंशनर्स को दो माह का अग्रिम भुगतान करेगी।

मजदूर

Madhya Pradesh Majdur Sahayata Yojana

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का कहना है कि ‘संनिर्माण कर्मकार मंडल के अंतर्गत मजदूरों को लगभग 8।25 लाख रूपये की सहायता प्रति मजदूर 1000 रुपए के हिसाब से उपलब्ध कराई जाएगी। राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली 1000 रूपये की धनराशि सीधे मजदूर लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी। Madhya Pradesh Majdur Sahayata Yojana का लाभ राज्य के 80 लाख मजदूरों को प्रदान किया जायेगा।इस योजना का लाभ उन मजदूर लाभार्थियों को दिया जायेगा जिनका पंजीकरण श्रम विभाग में हुआ हो। और जिन्होंने अभी तक श्रम विभाग में अपना पंजीकरण नहीं करवाया है तो करवा ले।

MP Rojgar Portal

मजदूर सहायता योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम Majdur Sahayata Yojana
इनके द्वारा शुरू की गयी मुख्यमंत्री शिवराज चौहान
जी
लाभार्थी राज्य के दिहाड़ी मजदूर
उद्देश्य 1000 रूपये की आर्थिक सहायता

मजदूर सहायता योजना का उद्देश्य

आप लोग तो जानते है की पूरा देश में कोरोना वायरस की वजह से हाहाकार मचा हुआ है और दिन प्रतिदिन यह समस्या बढ़ती जा रही है।इसी की वजह से केंद्र सरकार ने पुरे देश में 21 का लॉक डाउन कर दिया है। इस लॉक डाउन के समय कोई भी मजदूर अपने काम पर नहीं जा पा रहे है जिसकी वजह से वह अपना जीवन यापन करने के लिए आर्थिक ज़रूरतों को पूरा नहीं कर पा रहे है। इसी समस्या को देखते हुए राज्य सरकार ने मजदूर सहायता योजना को शुरू किया है। इस योजना के ज़रिये मध्य प्रदेश के मजदूर दिहाड़ी करने वाले गरीब लोगो को सरकार द्वारा 1000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करना जिससे सभी मजदूर अपना जीवन यापन करने के लिए खाद्य पदार्थ को खरीद सकते हैं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना

एमपी मजदूर सहायता योजना के लाभ

  • इस
    योजना का लाभ मध्य प्रदेश के सभी दिहाड़ी मजदूर (रिक्शे वाले, कूड़ा बीनने वाले ) आदि
    उठा सकते हैं।
  • मजदूर सहायता योजना के अंतर्गत राज्य के मजदूरों को सरकार द्वारा एक एक हज़ार रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करना।
  • यह
    धनराशि प्राप्त करने के लिए राज्य के लोगो को कही जाने ज़रूरत नहीं है सरकार सीधे लाभार्थियों
    के बैंक अकाउंट में धनराशि डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी।
  • आवेदक
    का बैंक अकाउंट होना अनिवार्य है और बैंक अकाउंट आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।
  • प्रदेश
    सरकार जनजातीय परिवारों के खातों में दो माह की अग्रिम राशि 2,000 रुपये देगी और सामाजिक
    सुरक्षा योजना के तहत आने वाले पेंशनर्स को दो माह का अग्रिम भुगतान करेगी।

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा अन्य ऐलान

  • शिवराज
    सिंह ने कहा कि लॉकडाउन के कारण उत्पन्न होने वाली स्थिति और इससे प्रभावित वर्गों
    के लिए सहायता पैकेज देने का निर्णय लिया। प्रदेश के 46 लाख पेंशनर्स को 600 रूपये
    प्रतिमाह सामाजिक सुरक्षा योजना अंतर्गत रुपए 275 करोड़ प्रतिमाह भुगतान किया जा रहा
    है। इसमें सामाजिक सुरक्षा पेंशन, विधवा पेंशन, वृद्धा अवस्था पेंशन निराश्रित पेंशन
    इत्यादि का दो माह का एडवांस भुगतान किया जाएगा। इस तरह से लाभार्थी को 2 माह की पेंशन
    मिलेगी।
  • सीएम
    ने मध्य प्रदेश में जनजातियों के परिवारों के खातों में दो माह की एडवांस राशि देने
    का ऐलान किया है। सूबे में सहरिया, बैगा और भारिया जनजातियों के परिवारों के बैंक खातों
    में दो माह की एडवांस राशि 2,000 रूपये उपलब्ध कराई जाएगी। सरकार के इसके लिए 2 करोड़
    20 लाख राशि आवांटित की है।

Madhya
Pradesh Majdur Sahayata Yojana की पात्रता

  • आवेदक
    मध्य प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक
    श्रम विभाग में पंजीकृत होना चाहिए।
  • राज्य
    के मजदूर और दिहाड़ी मजदूर इस योजना के अंतर्गत पात्र होंगे।

मजदूर सहायता योजना ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे ?

इस योजना का लाभ मध्य प्रदेश के जो मजदूर श्रम विभाग में पंजीकृत है उन्हें इस एमपी मजदूर सहायता योजना के तहत वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। जिन लोगो के अभी तक पंजीकरण नहीं करवाया है। तो वह श्रम विभाग, नगर विकास और ग्राम सभाओ में पंजीकरण करवाना होगा।उसके बाद इस योजना के तहत लाभार्थियों को 1000 रूपये की धनराशि लाभार्थियों के बैंक में ट्रांसफर की जाएगी। आप श्रम विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जानकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *